बुधवार, 27 जून 2018


केरल में चर्च के पांच पादरियों ने महिला का बलात्कार किया यह वही राज्य है जहां पर हिंदू नेताओं को मार दिया जाता है, उस नेता को मार दिया जाता है जो हिंदू लोगों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ बोलता है PFI इन हत्याओं में शामिल रहने वाला एक बड़ा संगठन है|
चर्च के 5 पादरियों ने किया महिला का 380 बार बलात्कार : केरल : कार्यवाही नहीं


भारत के राष्ट्रवादियों के द्वारा इसके खिलाफ कई बार आवाज उठाई गई है बाकी राजनीतिक पार्टियां लंबे समय तक भारत में शासन करती आ रही है उन्होंने कभी भी इस पर लगाम नहीं लगाई और ना ही इन्हें कानून से कोई दंड दिया| आपको जानकर आश्चर्य होगा कि भारत का उपराष्ट्रपति रह चुका हामिद अंसारी इन PFI के लोगों को सजा देने की बजाय शाबाशी तक दे चुके हैं|

हैवानियत की हद पार की ईसाई पादरियों ने

केरल में जिस महिला के साथ बलात्कार हुआ यह घटना बहुत ही चौंकाने वाली है और बहुत ही दुखद है भारत सरकार को चाहिए कि ऐसी घटनाओं में तुरंत कार्यवाही की जाए और कठिन और कठोर दंड दिया जाए| आपको बता दें कि उस महिला के साथ ही ने पांच पादरियों ने एक बार नहीं बल्कि चर्च के 5 पादरियों ने महिला का 380 बार बलात्कार किया|

चर्च में आस्था रखना बना खतरनाक

इसी गलती की वजह से ही है उन पादरियों के चपेट में आ गई महिला का नाम गुप्त रखा गया है


पादरियों को नहीं दी गई सजा

आपको सबसे जानकर आश्चर्य होगा की चर्च के उन पांचों  पादरी जिन्हें फादर भी कहा जाता है उन को सजा नहीं दी गई है बल्कि छुट्टी पर भेज दिया गया है ताकि जब मामला शांत हो जाए तब तक वह चर्च में काम पर ना आए|

 आपको विस्तार में बताते हैं कि पूरी घटना क्या है दरअसल उनमें से एक पादरी महिला को कॉलेज के दिनों से जानता था उसका उसके साथ प्रेम प्रसंग भी रह चुका था उस पादरी ने महिला को ब्लैकमेल करते हुए बुलाया और इसके बाद बाकी पादरियों के साथ मिलकर दुष्कर्म को अंजाम दिया और इसके बाद शुरू हो गया उसकी इज्जत के साथ खेल, यह जब भी चाहते तो उसे ब्लैकमेल करके बुलाते और फिर उसका शोषण करते|


Next article Next Post
Previous article Previous Post